True Love Shayari in Hindi

❤True Love Shayari❤

सुंदर सी शाम सुनी सी सड़क है,
सामने देखु तो एक उम्मिद जगती है,
आँखे बंद करू तो वो मेरी तरफ़ आती हुई नज़र आती है.

लफ्ज कितने ही तेरे पेरो से लिपटे होंगे,
जब तूने आखिरी खत मेरा जलाया होगा,
जब तूने फूल किताबो से निकाले होंगे,
देने वाला तुझे याद तो आया होगा।

तेरा चुप रहना मेरे जहन में क्या बेठ गया है,
इतनी आवाजे दी तुम्हे की गला बैठ गया,
ये नहीं कि मैं ही उसे चाहता हूं,
जो भी उस पेड़ की छांव में गया वो बेठ गया।

कुछ लुट गया कुछ लुटा दिया,
कुछ मिट गया कुछ मिटा दिया,
जिंदगी ने कुछ यू अजमाया हमें,
कुछ छीन गया कुछ गवा दिया।

उससे पता था मैं दुनिया नहीं मोहब्बत हूं,
वो मेरे सामने कुछ नहीं छुपाती थी,
और उससे किसी से मोहब्बत थी और वो मैं नहीं था,
ये बात मुझसे ज्यादा उसे रुलाती थी।

Leave a Comment

0 Shares
Share via
Copy link